गर्मी में भी बर्फबारी का मजा दे रही है हिमाचल की ये जगह, रोहतांग की तरह नहीं लेना पड़ता परमिट

गर्मी में भी बर्फबारी का मजा दे रही है हिमाचल की ये जगह, रोहतांग की तरह नहीं लेना पड़ता परमिट – भीषण गर्मी ने लोगों का जीना दुश्वार कर दिया है। हरियाणा, दिल्ली, राजस्थान, पंजाब सहित अन्य राज्यों में जहां पारा 44 के पार पहुंच चुका है। वही हिमाचल प्रदेश की कई जगहों पर जहां मौसम ठंडा रहता है, इस बार वहां भी पारा 33 से 37 से डिग्री तक जा चुका है। लेकिन यहां एक ऐसी जगह अभी भी है, जहां ठंड के साथ-साथ बर्फबारी भी देखी जाती है। चंबा के पास मौजूद साच पास है, जो पर्यटकों को गर्मी से राहत पहुंच रहा है। यहां भारी बर्फबारी हो रही है, जिसका मजा उठाने के लिए लोग इस जगह का रुख कर रहे हैं। अगर आप भी इस गर्मी में बर्फबारी का मजा लेना चाहते हैं, तो इस लेख के जरिए इस जगह के बारे में जानिए।

सच पास के बारे में

यह हिमाचल प्रदेश के चंबा जिले में स्थित एक शानदार ट्रैकिंग पॉइंट है। 14500 फीट की ऊंचाई पर बना यह रास्ता पांगी आदिवासी घाटी को चंबा के जिला मुख्यालय से जोड़ता है। यह ट्रैकिंग ट्रेल हिमाचल प्रदेश में सबसे अच्छे ट्रेल्स में से एक है। यहां यात्री नदियों, घने जंगलों और बागों और बस्तियों जैसे नजारों को देख सकते हैं। इस ट्रैक का उपयोग पहले गांव के लोगों द्वारा किया जाता था, तो चंबा से पांगी घाटी तक जाया करते थे, लेकिन अब ये पर्यटकों के बीच भी खासा लोकप्रिय बनता जा रहा है। ट्रेक आमतौर पर जून के अंत या जुलाई की शुरुआत से अक्टूबर के बीच तक खुलता है। ऑरिजनल ट्रैकिंग चंबा घाटी में ट्रेल से शुरू होती है और भनोदी के एक छोटे से गांव के माध्यम से सच दर्रे की ओर जाती है।

सच पास ट्रेक पर जाने का सबसे अच्छा समय

ये पास जून-जुलाई से अक्टूबर के बीच तक खुला रहता है, लेकिन इसे देखने का सबसे अच्छा महीना सितंबर है। हालांकि जून में, बर्फ देखने की काफी संभावनाएं हैं। अगर आपको और बर्फबारी देखने है, तो आप सितंबर या अक्टूबर में घूमने के लिए जा सकते हैं। इस जगह का तापमान कभी-कभी शून्य पर भी चला जाता है |

कैसे जाए साच पास

साच पास जाने के लिए पठानकोट से बनीखेत से या चुवाड़ी-जोत से होते हुए पहुंचा जा सकता है। इसके अलावा आप लाहुल-स्पीति या जम्मू कश्मीर होते हुए भी आप पांगी जा सकते हैं। यहां से साच पास की दूरी बेहद कम है। पठानकोट से बस या टैक्सी से बनीखेत करीबन 212 किमी दूर है। जिल मुख्यालय से साच पास की दूरी 119 किमी है। कांगड़ा के गगल एयरपोर्ट से साच पास की दूरी करीब 238 किलोमीटर है।

सच पास ट्रेक कहां है

सच दर्रा हिमाचल प्रदेश के चंबा जिले में हिमालय की पीर-पंजाल पर्वतमाला में स्थित है। दर्रा पांगी और लाहौल घाटियों को चंबा घाटी से जोड़ता है। आप या तो सच दर्रे पर रुक सकते हैं या सुरम्य पांगी घाटी में कुछ एडवेंचर करने के लिए आगे बढ़ सकते हैं।

Conclusion:- दोस्तों आज के इस आर्टिकल में हमने गर्मी में भी बर्फबारी का मजा दे रही है हिमाचल की ये जगह, रोहतांग की तरह नहीं लेना पड़ता परमिट के बारे में विस्तार से जानकारी दी है। इसलिए हम उम्मीद करते हैं, कि आपको आज का यह आर्टिकल आवश्यक पसंद आया होगा, और आज के इस आर्टिकल से आपको अवश्य कुछ मदद मिली होगी। इस आर्टिकल के बारे में आपकी कोई भी राय है, तो आप हमें नीचे कमेंट करके जरूर बताएं।

यह भी पढ़ें:- सपने में दिखे खाने की ये चीजें तो जल्द करोड़पति बन जाएंगे आप

अगर हमारे द्वारा बताई गई जानकारी अच्छी लगी हो तो आपने दोस्तों को जरुर शेयर करे tripfunda.in आप सभी का आभार परघट करता है {धन्यवाद}

1 Comment

Leave a Comment