हिमाचल प्रदेश की इस जगह वर्षों पुरानी ‘The Mummy’ है, जानिए

हिमाचल प्रदेश की इस जगह वर्षों पुरानी ‘The Mummy’ है, जानिए:- नमस्कार मित्रों आज हम बात करेंगे हिमाचल प्रदेश की इस जगह वर्षों पुरानी The Mummy के बारे में प्राचीन मिस्र सभ्यता में बड़े पैमाने पर ममी (Mummy) होती थी। इसमें किसी भी इंसान की मौत के बाद उसके शव यानी मृत शरीर को केमिकल्स से संरक्षित करके रखा जाता था जिसे ममी कहते थे। सिर्फ मिस्र में ही नहीं बल्कि अन्य देश में भी ममी का अस्तित्व देखा गया है। लेकिन अगर आपसे यह सवाल किया जाए कि क्या भारत में ममी को देखा गया है, तो फिर आपका जवाब क्या होगा? शायद आपको मालूम हो, अगर नहीं मालूम है तो आपको बता दें कि हिमाचल प्रदेश में ममी है जिसके बारे में हम आपको बताने जा रहे हैं। तो आइए हम जानते हैं इस आर्टिकल में विस्तार से.

लगभग 500 साल प्राचीन है ममी

  • हिमाचल प्रदेश में मौजूद यह ममी (Mummy) लगभग 550 साल से अधिक प्राचीन मानी जाती है
  • इस ममी को लेकर ऐसी कई कहानी है
  • जिसके बारे में पढ़कर लोग कुछ देर सोच में पड़ जाते हैं
  • स्थानीय लोगों के अनुसार हैरान करने वाली बात यह है
  • इस ममी के बाल और नाख़ून बढ़ते रहते हैं
  • इस अजीब घटना के चलते आज भी यह ममी लोगों के बीच प्रचलित है
  • यह ममी एक तिब्बती बौद्ध भिक्षु थी

गियू गांव में है ये ममी

  • हिमाचल प्रदेश के गियू/ग्यू गांव में यह ममी है
  • कि लगभग 1974-75 के आसपास स्पीति में भूकंप के कुछ साल बाद जवान को कुछ मिला, जब देखा गया तो यह एक ममी थी
  • इस ममी को एक कांच के बॉक्स में रखा गया है
  • यह ममी सांघा तेंजिन का है जो एक बौद्ध भिक्षु थे
  • सांघा तेंजिन की मृत्यु लगभग 15वीं शताब्दी में हुई थी
  • जब वो 45 साल के आसपास थे
  • यह एक ऐसी ममी है जो नेचुरल रूप में है
  • इसे किसी भी केमिकल के द्वारा संरक्षित नहीं किया गया है
  • यह भारत के साथ-साथ दुनिया की एकमात्र ममी है जो बैठी हुई अवस्था में है

आईटीबीपी के जवानों को मिली थी ममी

  • ग्यू गांव में मिली ममी के बार में कहा जाता है
  • कि जब आईटीबीपी के जवान सड़क के लिए खुदाई का रहे थे
  • तो ये ममी मिली थी। जब जवानों को पता चला कि यह ममी है
  • तो इसे संरक्षित रखने के लिए घर का निर्माण किया गया था
  • कि कई वर्षों तक इस ममी को आईटीबीपी कैम्पस में रखी गई थी
  • जब कुछ विदेशी वैज्ञानिकों ने इस ममी पर शोध किया तो मालूम चला कि यह 550 साल से भी प्राचीन है

कैसे पहुंचे यहां

  • अगर आप इस ममी को देखना चाहते हैं
  • तो फिर आप आसानी से पहुंच सकते हैं
  • ग्यू गांव किसी और स्थान नहीं बल्कि स्पीती घाटी के पास है
  • ऐसे में अगर आप जब भी स्पीती घूमने के लिए जा रहे हैं
  • तो आप इस गांव में पहुंच सकते हैं
  • कि कई लोग इस ममी की पूजा भी करते है और चढ़ावा भी चढ़ाते हैं

Conclusion:- मित्रों आज के इस आर्टिकल में हिमाचल प्रदेश की इस जगह वर्षों पुरानी ‘The Mummy’ है, जानिए के बारे में कभी विस्तार से बताया है। तो हमें ऐसा लग रहा है की हमारे द्वारा दी गये जानकारी आप को अच्छी लगी होगी तो इस आर्टिकल के बारे में आपकी कोई भी राय है, तो आप हमें नीचे कमेंट करके जरूर बताएं। ऐसे ही इंटरेस्टिंग पोस्ट पढ़ने के लिए बने रहे हमारी साइट TripFunda.in के साथ (धन्यवाद)

Leave a Comment