Central Vista: जानिए इस प्रोजेक्ट के बारे में सब कुछ, आखिर क्यों प्रधान मंत्री मोदी के लिए है ये खास

जय हिन्द साथियों आज हम बात करेंगे जानिए इस प्रोजेक्ट के बारे में सब कुछ, आखिर क्यों प्रधान मंत्री मोदी के लिए है ये खास के बारे में इस आर्टिकल की पूर्ण जानकारी नीचे पॉइंट में बताई गई है तो आप इस आर्टिकल की संपूर्ण जानकारी पढ़े:- आखिरकार सेंट्रल विस्टा प्रोजेक्ट के उद्घाटन का दिन यानी 8 सितंबर आ ही गया। वैसे तो आज दिल्ली में इसके आस-पास के सारे स्थान बंद हैं, लेकिन कल से लोग इसे घूम सकेंगे। पिछले दो सालों से प्रधानमंत्री के इस ड्रीम प्रोजेक्ट को लेकर जो जद्दोजहद चल रही थी वो आखिरकार पूरी हो ही गई। आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा ही इसका अनावरण होगा और दिल्ली के ऐतिहासिक स्थल राजपथ पर सेंट्रल विस्टा लॉन का रीडेवलपमेंट सबके सामने आएगा। सेंट्रल विस्टा जिस जगह मौजूद है यानी राजपथ उसका नाम अब बदलकर ‘कर्तव्य पथ’ हो गया है। इसके उद्घाटन के समय बहुत ज्यादा चौकसी लगाई गई थी और दिल्ली में सभी ऑफिस 4 बजे बंद करने का ऐलान भी पहले ही कर दिया गया था। कई मार्गों में ट्रैफिक भी डाइवर्ट हुआ। यही नहीं इस प्रोजेक्ट के उद्घाटन के लिए तो 3 बजे से दिल्ली हाई कोर्ट को भी बंद कर दिया गया।

4000 पेड़ों से सजा है सेंट्रल विस्टा

  • नया सेंट्रल विस्टा प्रोजेक्ट 4000 पेड़ों से घिरा हुआ है जहां जामुन के पेड़ों को प्रिजर्व किया गया है जो पहले से ही उस जगह पर मौजूद थे।
  • इसमें से 69 पेड़ों को ट्रांसप्लांट कर प्रोजेक्ट की जगह पर भेजा जा रहा है और 47 पेड़ों को इस प्रांगण के बीच में ही लगाया गया है।
  • इसमें 191 नए पेड़ भी शामिल हैं और 140 अन्य पेड़ हैं जिन्हें शुरुआत में ही यहां प्लांट किया गया था।
  • पहले जो प्लान बनाया गया था उसमें सिर्फ 454 पेड़ लगाए जाने थे, लेकिन इसे बढ़ाकर राजपथ के इर्द-गिर्द और पेड़ लगाए गए हैं।

यहां हर राज्य के लिए खुलेंगे फूड स्टॉल्स

  • यहां पर हर राज्य के लिए नए फूड स्टॉल्स भी खोले जाएंगे और इसके लिए राजपथ के इर्द-गिर्द जगह को कुछ इस तरह से डिजाइन किया गया है कि इसे टूरिस्ट स्पॉट की तरह भी देखा जा सके।
  • यहां पर इंडिया गेट के दोनों तरफ नई दुकानें भी बनाई गई हैं। अब यहां पर घर का खाना खाने की इजाजत नहीं होगी और ये अब टूरिस्ट स्पॉट बन गया है।

राजपथ पर हुए हैं ये बड़े बदलाव

  • पहले यहां लाल रेत थी जिसे बदलकर अब लाल पत्थर लगाए गए हैं।
  • यहां 12 से 15 किमी का लंबा पैदल मार्ग बना दिया गया है।
  • यहां ट्रैफिक को रोकने और सड़कबंदी के लिए 987 कॉन्क्रीट के बोलार्ड बने हैं।
  • रात के समय रौशनी के लिए 900 से ज्यादा लाइट पोस्ट लगाए गए हैं।
  • यहां पर बैठने की व्यवस्था भी बेहतर बनाई गई है और यहां लगभग 422 नई ग्रेनाइट बेंच लगी हैं।
  • अगर आपने राजपथ को देखा है तो इसके किनारे बहने वाली नहर में 16 नए पुल बनाए गए हैं।

2020 में शुरू हुआ था 20 हज़ार करोड़ का प्रोजेक्ट

  • सेंट्रल विस्टा एवेन्यू प्रोजेक्ट की लागत पूरी तरह से 20 हज़ार करोड़ रुपए थी और ये 3.2 में फैला हुआ है।
  • इसकी नींव प्रधानमंत्री मोदी ने 2020 में रखी थी। 9 सितंबर से लोग यहां घूमने आ सकेंगे।

Read Also

  1. गाजियाबाद की ये डरावनी जगहें कई दिलचस्प कहानियों के लिए हैं फेमस
  2. झुमरी तलैया: नाम तो सुना ही होगा यहां घूमने के लिए हैं कई अद्भुत जगहें
  3. बिहार राज्य की खूबसूरती में चार-चांद लगाते हैं यह वाटरफॉल

Conclusion:- मित्रों आज के इस आर्टिकल में जानिए इस प्रोजेक्ट के बारे में सब कुछ, आखिर क्यों प्रधान मंत्री मोदी के लिए है ये खास के बारे में कभी विस्तार से बताया है। तो हमें ऐसा लग रहा है की हमारे द्वारा दी गये जानकारी आप को अच्छी लगी होगी तो इस आर्टिकल के बारे में आपकी कोई भी राय है, तो आप हमें नीचे कमेंट करके जरूर बताएं।

Leave a Comment