कृष्णा नदी के उद्गम और इतिहास के बारे में जानें

कृष्णा नदी के उद्गम और इतिहास के बारे में जानें :- नमस्कार मित्रों आज हम बात करेंगे गंगा, यमुना, सरस्वती की ही तरह भारत की अलग नदियों में से एक है कृष्णा नदी। भारत की सबसे लंबी नदियों में से एक कृष्णा नदी देश के चार राज्यों में बहती है महाराष्ट्र, कर्नाटक, तेलंगाना और आंध्र प्रदेश। यह लगभग 1,300 किमी की दूरी तय करती है और इसलिए यह भारत की सबसे बड़ी नदियों में से एक है। तो आए हम जानते हैं इस आर्टिकल में विस्तार से

कृष्णा नदी का उद्गम स्थान और इतिहास

+ कृष्णा नदी महाराष्ट्र के महाबलेश्वर से निकलती है
+ पुराने महाबलेश्वर में कृष्णा बाई मंदिर कृष्णा नदी का जन्म स्थान है
+ कृष्णा बाई मंदिर एक प्राचीन शिव मंदिर है
+ जहां एक गाय के मुंह से एक धारा निकलती है
+ यह धारा ही आगे जाकर कृष्णा नदी बन जाती है
+ कृष्णाबाई मंदिर महाबळेश्वर में पंचगंगा मंदिर के पास स्थित है।
+ इस मंदिर का लुक मानसून के दौरान और भी ज्यादा खूबसूरत लगता है।

भारत की चौथी सबसे बड़ी नदी

+ विशेष रूप से, क्षेत्रफल और प्रवाह के मामले में कृष्णा भारत की चौथी सबसे बड़ी नदी है
+ इसकी सहायक नदियां वेन्ना नदी, कोयना नदी, दूधगंगा नदी, भीमा नदी घटप्रभा नदी, मालाप्रभा नदी, तुंगभद्रा नदी, मुसी नदी और डिंडी नदियां हैं।
+ कृष्णा नदी की सबसे बड़ी सहायक नदियां तुंगभद्रा नदी और भीमा नदी है
+ कृष्णा और उनकी कुछ सहायक नदियां पश्चिमी घाट में अपनी यात्रा शुरू करती हैं
+ पंचगंगा मंदिर एक 4,500 साल पुराना मंदिर है
+ कृष्णा नदी वेन्ना, कोयना, गायत्री और सावित्री नदियों के साथ गाय (गोमुख) के मुंह से निकलती है।

कृष्णा नदी पर है वन्य जीव अभ्यारण्य

+ कृष्णा नदी बेसिन सबसे उपजाऊ क्षेत्रों में से एक है
+ इसमें वन भंडार भी शामिल हैं
+ कृष्णा नदी पर सबसे बड़े शहर सांगली, महाराष्ट्र का हल्दी शहर और आंध्र प्रदेश में विजयवाड़ा इसी नदी के तट पर स्थित हैं
+ कृष्णा नदी महाराष्ट्र के पश्चिमी घाट से निकलती हैं
+ आंध्र प्रदेश के हंसलादेवी गांव में बंगाल की खाड़ी में गिरती हैं
+ भद्रा वन्यजीव अभयारण्य, नागार्जुन-श्रीशैलम टाइगर रिजर्व, कोयना वन्यजीव अभयारण्य और ग्रेट इंडियन बस्टर्ड अभयारण्य कृष्णा नदी के बेसिन के कुछ शीर्ष वन्य जीव अभ्यारण्य हैं

Conclusion:- मित्रों आज के इस आर्टिकल में हमने कृष्णा नदी के उद्गम और इतिहास के बारे में कभी विस्तार से बताया है। तो हमें ऐसा लग रहा है की हमारे द्वारा दी गये जानकारी आप को अच्छी लगी होगी तो इस आर्टिकल के बारे में आपकी कोई भी राय है, तो आप हमें नीचे कमेंट करके जरूर बताएं।

यह भी पढ़े :- केवल 15 हजार में घूम आएं नेपाल, इस तरह बनाएं बजट

ऐसे ही इंटरेस्टिंग पोस्ट पढ़ने के लिए बने रहे हमारी साइट TripFunda.in के साथ (धन्यवाद)

Leave a Comment