पूवार जाएं तो इन जगहों का जरूर उठाएं लुत्फ

पूवार जाएं तो इन जगहों का जरूर उठाएं लुत्फ:– नमस्कार मित्रों आज हम बात करेंगे पूवार जाएं तो इन जगहों का जरूर उठाएं लुत्फ के बारे में यूं भारत के कण-कण में खूबसूरती बसी है, लेकिन केरल की बात ही कुछ और है। इसकी खूबसूरती का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि इसे लोग गॉड्स ओन कंट्री अर्थात् भगवान का अपना देश के नाम से जाना जाता है। तिरुवनंतपुरम केरल की राजधानी है। केरल की राजधानी और इसके आसपास देखने के लिए बहुत कुछ है। इन्हीं में से एक है पूवार। अगर आपको धरती पर जन्नत की सैर करनी है तो आपको पूवार अवश्य घूमना चाहिए। पूवार एक छोटा सा शहर है जो तिरुवनंतपुरम से लगभग 27 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। इसे मछली पकड़ने के गांव के रूप में भी जाना जाता है। यहां पर नाव किराए पर लेकर बैकवाटर और मैंग्रोव जंगल का अद्भुत नजारा देखने का मौका मिलता है। शहर में कुछ खूबसूरत रिसॉर्ट और होटल हैं जिसके कारण यहां पर ठहरने में भी आपको समस्या नहीं होगी। तो आइए हम जानते हैं इस आर्टिकल में विस्तार से.

पूवार में करें शॉपिंग

  • पूवार एक छोटा सा कोस्टल एरिया है
  • जहां खरीदारी के लिए कई विकल्प नहीं हैं
  • लेकिन फिर भी अगर आप पूवार जा रही हैं
  • यहां पर आप लोकल मार्केट में जूते, कृत्रिम गहनों और कालीनों को खरीदने पर विचार कर सकती हैं

थिरपराप्पु फॉल्स का उठाएं लुत्फ

  • कन्याकुमारी से लगभग 55 किलोमीटर की दूरी पर स्थित, तिरपराप्पु जलप्रपात का झरना मनमोहक दृश्य बनाता है
  • यह वाटरफॉल मानव निर्मित है और 50 फीट की ऊंचाई से गिरता है
  • पानी नीचे एक विचित्र कुंड में इकट्ठा होता है। यह एक ऐसा स्थान है
  • जो विशेष रूप से बच्चों के लिए घूमने के लिए आदर्श माना जाता है
  • नीचे का कंटेनमेंट किसी टॉप-टियर वाटरपार्क से कम नहीं है पूरी तरह से सुरक्षित भी है
  • इस गंतव्य के प्रवेश द्वार में एक छोटा मंदिर है जो भगवान शिव को समर्पित है
  • स्थानीय लोगों द्वारा अत्यधिक पूजनीय है

देखें पूवार बीच

  • सुनहरी रेत और कल-कल बहता पानी यह पूवार बीच आपको बेहद ही शानदार नजारा पेश करता है
  • यह बेहतरीन समुद्र तट नेय्यर नदी और अरब सागर के बीच बसा हुआ है
  • साथ ही नारियल के पेड़ यहां की सुंदरता में चार चांद लगा देते हैं
  • यहां पर मुख्य रूप से मछली पकड़ने का व्यवसाय लोग करते हैं
  • इसलिए पूवार बीच पर आपको वाटर स्पोर्ट्स का आनंद लेने का मौका नहीं मिलेगा
  • लेकिन कुछ सुकून के पल बिताने के लिए यह बीच एक आदर्श वातावरण प्रदान करता है

फिशिंग विलेज में घूमें

  • अगर आप केरल और केरल के लोगों की जीवनशैली को करीब से देखना चाहती हैं
  • तो आपको फिशिंग विलेज में भी अवश्य जाना चाहिए
  • जिसे विंझिंजम के नाम से जाना जाता है
  • यह तिरुवनंतपुरम के शहर के केंद्र से केवल 17 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है
  • इस गांव के लोग पारंपरिक तरीके से मछली पकड़कर ही अपना जीवन यापन करते हैं
  • उनकी आजीविका पूरी तरह से नदी और समुद्र पर निर्भर है
  • अपने राजनीतिक और आर्थिक महत्व के अलावा, विंझिंजम एक बहुत ही लोकप्रिय पर्यटक आकर्षण है और दक्षिण के पसंदीदा गेटवे में से एक है
  • गांव में शानदार प्राकृतिक समुद्र तट एक शांति का अहसास करवाते हैं
  • अपने आकर्षक समुद्र तटों के अलावा, रॉक कट गुफा विंझिंजम का एक और प्रसिद्ध आकर्षण है
  • जो विनंधार दक्षिणामूर्ति को समर्पित मंदिर है
  • 18वीं सदी के इस मंदिर में भगवान शिव और देवी पार्वती की सुंदर अर्ध-नक्काशीदार मूर्तियां हैं
  • स्थानीय लोगों के लिए इसका अत्यधिक धार्मिक महत्व है

Conclusion:- मित्रों आज के इस आर्टिकल में पूवार जाएं तो इन जगहों का जरूर उठाएं लुत्फ के बारे में कभी विस्तार से बताया है। तो हमें ऐसा लग रहा है की हमारे द्वारा दी गये जानकारी आप को अच्छी लगी होगी तो इस आर्टिकल के बारे में आपकी कोई भी राय है, तो आप हमें नीचे कमेंट करके जरूर बताएं। ऐसे ही इंटरेस्टिंग पोस्ट पढ़ने के लिए बने रहे हमारी साइबारिश के मौसम में हर घुमक्कड़ को इन रोड ट्रिप का लुत्फ़ उठाना चाहिएट TripFunda.in के साथ (धन्यवाद)

Leave a Comment