स्पीति वैली हुई पुरानी, अब यह वैली बनी सैलानियों की पहली पसंद

स्पीति वैली हुई पुरानी, अब यह वैली बनी सैलानियों की पहली पसंद:- नमस्कार मित्रों आज हम बात करेंगे स्पीति वैली हुई पुरानी, अब यह वैली बनी सैलानियों की पहली पसंद के बारे में भारत का हिमाचल प्रदेश अपनी अलौकिक सुंदरता के कारण सिर्फ देश में ही नहीं बल्कि विदेश में भी प्रसिद्ध है। इस खूबसूरत शहर में ऐसी कई अद्भुत जगहें हैं जहां हर दिन हजारों सैलानी घूमने के लिए पहुंचते हैं। इस शहर में मौजूद कांगड़ा वैली, किन्नौर घाटी, सोलंग वैली और हब्बन वैली जैसी जगहों पर हर दिन हजारों देशी और विदेशी पर्यटक घूमने के लिए पहुंचते हैं। लेकिन, इस राज्य में एक ऐसी भी जगह है जिसके बारे में लगभग सभी सैलानी अनजान है। हम बात कर रहे हैं ‘सैंज वैली’ के बारे में। इस लेख में हम आपको सैंज वैली के बारे में बताने जा रहे हैं। इस लेख को पढ़ने के बाद आप भी इस अलौकिक वैली में घूमने का प्लान बना सकते हैं। तो आइए हम जानते हैं इस आर्टिकल में विस्तार से.

सैंज वैली

  • हिमाचल प्रदेश में मौजूद सैंज घाटी कुल्लू से लगभग 46 किमी की दूरी पर है
  • हिमाचल की वादियों की गोद में बसी ये घाटी कई अलौकिक सुंदरता के लिए प्रसिद्ध है
  • यह घाटी एक जीवंत नजारा प्रस्तुत करती है जिसे देखने के बाद लगभग हर कोई इसी घाटी में बस जाना चाहेगा
  • यहां आपको ऊंचे-ऊंचे और हरियाली ही हरियाली दिखाई देगी
  • एक तरह से किसी भी नेचर लवर के लिए यह घाटी किसी जन्नत से कम नहीं है

सैंज वैली में क्या है खास

  • सैंज वैली सिर्फ अलौकिक सुंदरता के लिए ही नहीं बल्कि अन्य कई कारणों की वजह से भी बेहद लोकप्रिय है
  • यहां मौजूद छोटे-छोटे गांव आपकी यात्रा में चार चांद लगा सकते हैं
  • यहां आप घने जंगलों के बीच घूमने के साथ-साथ ट्रैकिंग का भी लुत्फ़ उठा सकते हैं
  • नेचर लवर के साथ-साथ एडवेंचर प्रेमियों के लिए भी यह घाटी किसी जन्नत से कम नहीं है
  • यहां की हवा आपको अपना बनाने पर मजबूर कर सकती है

शांघड़ गांव घूमने पहुंचे

  • अगर आप सैंज वैली घूमने के निकल रहे हैं
  • तो फिर आपको शांघड़ गांव में ज़रूर पहुंचना चाहिए
  • सैंज घाटी के अंतिम छोर पर मौजूद यह गांव सैलानियों के बीच बहुत लोकप्रिय है
  • इस गांव और समूचे सैंज वैली में मौजूद खूबसूरत झरने भी सैलानियों के बीच बेहद लोकप्रिय है
  • कि इस गांव और सैंज वैली को पर्यटक का केंद्र बनाने के लिए कई योजना की शुरुआत हुई है

कैसे पहुंचे

  • सैंज वैली पहुंचना आसान नहीं है इसलिए यहां सैलानी भी बहुत कम पहुंचते हैं
  • उबड़-खाबड़ सड़क मार्ग और दुर्गम होने के चलते यहां पहुंचना आसान नहीं होता है
  • तो आपको कुल्लू पहुंचना होगा। कुल्लू से लोकल बस लेकर आप सैंज वैली पहुंच सकते हैं कुल्लू मुख्यालय से
  • सैंज वैली की दूरी लगभग 60 किमी है मनाली से भी यहां जा सकते हैं

Conclusion:- मित्रों आज के इस आर्टिकल में स्पीति वैली हुई पुरानी, अब यह वैली बनी सैलानियों की पहली पसंद के बारे में कभी विस्तार से बताया है। तो हमें ऐसा लग रहा है की हमारे द्वारा दी गये जानकारी आप को अच्छी लगी होगी तो इस आर्टिकल के बारे में आपकी कोई भी राय है, तो आप हमें नीचे कमेंट करके जरूर बताएं। ऐसे ही इंटरेस्टिंग पोस्ट पढ़ने के लिए बने रहे हमारी साइट TripFunda.in के साथ (धन्यवाद)

Leave a Comment