राव चूड़ा कौन थे

राव चूड़ा को राजस्थान का भीष्म कहा जाता है

राठौड़वंश का प्रथम बड़ा शासक राव चूड़ा था

– रावचूड़ा ने मारवाड़ में सामन्त प्रथा की शुरूआत की

उत्तर भारत में एकमात्र रावण मन्दिर मंडोर

– रावण की पत्नी मंदोदरी मण्डोर की ही रहने वाली थी

– राव चूड़ा ने अपने छोटे पुत्र कान्हा को राज़ दिया तो बड़ा पुत्र रणमल नाराज होकर मेवाड में चला गया

राव चूड़ा ने मारवाड़ में सामन्ती प्रथा को प्रारम्भ किया

जबकि मारवाड़ में सामन्ती प्रथा का वास्तविक संंस्थापक राव जोधा को माना जाता था

इस वेब स्टोरी से संबंधित संपूर्ण जानकारी के लिए आप नीचे दिए गए Learn More पर क्लिक  करके पूरी जानकारी पढ़े