भारत के इस शहर में नहीं होता रावण-दहन, धूमधाम से होती है पूजा

– जिस जगह के बारे में हम जिक्र कर रहे हैं वो जगह दक्षिण भारत में मौजूद है।

– दक्षिण भारतीय राज्य कर्नाटक के कोलार में आज से नहीं बल्कि वर्षों से रावण का पुतला नहीं जलाया जाता है।

– यहां नवरात्रि के दिनों में रावण की पूजा होती है और भारी संख्या में लोग भी शामिल होते हैं।

– जिस दिन भारत के अन्य हिस्सों में दशहरा होता है उसी दिन कोलार में फसल की पूजा-पाठ होती है।

– इस शुभ मौके पर एक महोत्सव का भी आयोजन होता है जिसका नाम लंकेश्वर महोत्सव है।

– इस विशेष मौके पर रावण की प्रतिमा को रथ पर रखकर शोभायात्रा निकालते हैं।

– एक अन्य लोक कथा है कि इस दिन कोलार में भगवान शिव की पूजा होती है

– रावण भगवान शिव का भक्त था इसलिए भगवान शिव के साथ रावण की भी पूजा होती है।

इस वेब स्टोरी से संबंधित संपूर्ण जानकारी के लिए आप नीचे दिए गए Learn More पर क्लिक  करके पूरी जानकारी पढ़े