मेवाड़ के महाराणा भगवंत सिंह का जीवन परिचय

मेवाड़ राजवंश ने भले ही भारतीय संघ में विलय कर दिया था

लेकिन उसके मुखिया पूरी शानशौकत के साथ रहते थे

इसके पीछे दिलचस्प कहानी ये है कि मेवाड़ के राजाओं ने शपथ ली थी

जब तक दिल्ली पर विदेशियों का शासन रहेगा वो दिल्ली नहीं जाएंगे

जिस समय मेवाड़ के महाराजा दिल्ली गए उस समय देश को आजादी हासिल हो चुकी थी

रियासतों का जब भारतीय संघ में विलय हो रहा था

उस वक्त राजाओं, रानियों, नवाबों और बेगमों को प्रिवी पर्स दिया जा रहा था

लेकिन मेवाड़ के महाराना भागवत सिंह दूरदृष्टि वाले थे

इस वेब स्टोरी से संबंधित संपूर्ण जानकारी के लिए आप नीचे दिए गए Learn More पर क्लिक  करके पूरी जानकारी पढ़े