Navratri 2022: इस प्राचीन मंदिर में फूल की जगह चढ़ाई जाती है ढाई प्याला शराब, जानें क्यों

– हम जिस मंदिर के बारे में जिक्र कर रहे हैं उस प्राचीन मंदिर का नाम 'मां भंवाल काली माता का मंदिर'।

– यह प्राचीन और पवित्र मंदिर राजस्थान के नागौर जिले स्थित है।

– स्थानीय लोगों के बीच यह मंदिर बेहद ही पवित्र और लोकप्रिय है।

– नवरात्रि के दिनों में यहां हमेशा भक्तों की भीड़ मौजूद रहती हैं।

– नवरात्रि में यहां अन्य शहर से मां भंवाली का दर्शन करने पहुंचते हैं।

– मां भंवाल काली माता का मंदिर की पौराणिक कथा भी बेहद दिलचस्प है।

– मां भंवाल काली माता का मंदिर का इतिहास बेहद ही दिलचस्प है।

– इस मंदिर के बारे में कहा जाता है कि इसका निर्माण किसी भगवान या राजा ने नहीं बल्कि डाकुओं के करवाया था।

इस वेब स्टोरी से संबंधित संपूर्ण जानकारी के लिए आप नीचे दिए गए Learn More पर क्लिक  करके पूरी जानकारी पढ़े