रावण के ससुराल में है कुबेर मंदिर, धनतेरस पर दर्शन मात्र से होती है धन की प्राप्ति

– इस प्राचीन मंदिर के गर्भ गृह में भगवान कुबेर की पवित्र मूर्ति है।

– करीब 3 फीट ऊंची और पवित्र मंदिर के दर्शन के लिए हर हजारों भक्त पहुंचते हैं।

– खासकर धनतेरस और दिवाली के यहां भक्तों भी भीड़ लगी रहती हैं।

– कहा जाता है कि एक हाथ में धन धन की पोटली है अन्य हाथों में शास्त्र है।

– कुबेर देवता को लेकर यह मान्यता है कि वो नेवले की सवारी करते थे।

– मंदसौर में स्थित कुबेर मंदिर का इतिहास बेहद ही दिलचस्प है।

– स्थानीय और अन्य कई लोगों का मानना है कि इस मंदिर का निर्माण मराठा काल से पहले किया गया था।

प्राचीन काल में यह मंदिर इस तरह प्रचलित था कि इस मंदिर पर कई बार मुगलों ने भी आक्रमण किया था

इस वेब स्टोरी से संबंधित संपूर्ण जानकारी के लिए आप नीचे दिए गए Learn More पर क्लिक  करके पूरी जानकारी पढ़े