वियतनाम का वो राजा जिसने मरने के बाद करवाया 200 लोगों का कत्ल, नकली कब्र पर आज भी जाते हैं लोग

– टू डूक का जन्म 1829 में प्रिंस गुयेन फुओंग होआंग न्हम के रूप में हुआ था।

– उन्होंने 1847 में अपने पिता के उत्तराधिकारी के रूप में टू डूक को अपने शासनकाल के नाम के रूप में चुना था।

– वह गुयेन राजवंश के सदस्य थे और वियतनाम को दुनिया के बाकी हिस्सों से अलग रखने का प्रयास करते थे।

– टू डूक मकबरे का इतिहास कई नामों से जुड़ा है।

– मकबरे का निर्माण 1864 में पचास हजार सैनिकों की भागीदारी के साथ शुरू हुआ था।

– इस समय, मकबरे का नाम वैन निएन कंपनी रखा गया था।

– इस बीच, यहां काम करने वाले मजदूरों का जीवन बेहद कठिन था।

– उनके पास खाने के लिए पर्याप्त भोजन नहीं था और ना ही पहनने के लिए पर्याप्त कपड़े थे। 

इस वेब स्टोरी से संबंधित संपूर्ण जानकारी के लिए आप नीचे दिए गए Learn More पर क्लिक  करके पूरी जानकारी पढ़े